Mamata Banerjee : ममता बनर्जी की ई-बाइक रैली,पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों को लेकर किया सरकार पर हमला

जहां पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों को लेकर इसमें अलग-अलग तरीके से प्रदर्शन हो रहे हैं , कहीं पर शादी में पेट्रोल देकर कन्यादान किया जा रहा है , तो कहीं पर लोग रास्तों में बैठकर या फिर साइकिल लेकर सरकार का विरोध कर रहे हैं।

Mamata Banerjee : ममता बनर्जी की ई-बाइक रैली,पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों को लेकर किया सरकार पर हमला

जहां पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों को लेकर इसमें अलग-अलग तरीके से प्रदर्शन हो रहे हैं , कहीं पर शादी में पेट्रोल देकर कन्यादान किया जा रहा है , तो कहीं पर लोग रास्तों में बैठकर या फिर साइकिल लेकर सरकार का विरोध कर रहे हैं।

इस बीच बड़ी खबर आ रही है पश्चिम बंगाल से पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर पश्चिम बंगाल की तत्कालीन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सड़क पर उतर आई। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज कोलकाता में इ-बाइक रैली की, कोलकाता के मेयर फिरहाद हकीम ने इ-बाइक पर ममता बनर्जी को पीछे बैठाया हरिश चैटर्जी स्ट्रीट से लेकर सचिवालय तक यह ई बाइक रैली निकाली गई।

सचिवालय पहुंचने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि नोटबंदी पेट्रोल-डीजल और कोयले की बढ़ती कीमतों के कारण देश अब बैकफुट पर चल रहा है, प्रधानमंत्री और अमित शाह इस के पूरे जिम्मेदार हैं , उन्होंने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह सिर्फ जगहों के नाम बदल रहे हैं। जैसे कि सरदार वल्लभ भाई पटेल का नाम बदलकर अपना नाम स्टेडियम का रख लिए।

बता दें कि कई जगहों पर पेट्रोल की कीमत 100 के पार हो चुके हैं , वहीं कोलकाता में पेट्रोल की कीमत इस समय ₹91.12 पैसे और डीजल ₹84.19 लीटर चल रहा है पेट्रोल और डीजल की उचित कीमत से हर तरफ से आवाज उठ रही है, कि सरकार इस पर लगाम क्यों नहीं लगा रही और भारी टैक्स में कटौती क्यों नहीं कर रही है।

क्योंकि 2014 से पहले बीजेपी की सरकार ने सत्ता में आने के लिए तमाम वादे किए थे, जिनमें से एक वादा यह भी था कि देश की जनता को सरकार आने के बाद ₹30 प्रति लीटर तेल दिया जाएगा जो की तिगुना हो चुका है।

फरवरी के महीने में पेट्रोल 13 दिन लगातार बड़े हैं क़रीब पेट्रोल इस महीने 4 रुपए महंगा हुआ है, वहीं डीजल की कीमत साडे 3.90 पैसे तक महंगी हुई है। भारत के आजादी के बाद इस समय पेट्रोल सबसे महंगा चल रहा है इसलिए विपक्षी पार्टियां लगातार अलग-अलग तरीकों से बीजेपी की सरकार पर हमलावर है