बीएचयू -छात्रों के दबंगई का वीडियो वायरल,ट्रामा सेंटर में जूनियर डॉक्टरों को दौड़ाकर पीटा | Varanasi

बीएचयू के ट्रामा सेंटर में शुक्रवार को छात्रों की दबंगई देंखने को मिली। मरीज के ईलाज को लेकर छात्र और जूनियर डॉक्टरों के बीच पहले नोकझोक हुई और फिर देखते ही देखते बवाल बढ़ गया जिसके बाद छात्रों ने ट्रामा सेंटर में ही जूनियर डॉक्टरों को दौड़ा दौड़ा कर पीटा । छात्रो के दबंगई का ये वीडियो ट्रामा सेंटर के सीसीटीवी में कैद हो गयी है और अब ये वीडियो सोशल मीडया पर बहुत तेजी वारयल हो रही है।

बीएचयू के ट्रामा सेंटर में शुक्रवार को छात्रों की दबंगई देंखने को मिली। मरीज के ईलाज को लेकर छात्र और जूनियर डॉक्टरों के बीच पहले नोकझोक हुई और फिर देखते ही देखते बवाल बढ़ गया जिसके बाद छात्रों ने ट्रामा सेंटर में ही जूनियर डॉक्टरों को दौड़ा दौड़ा कर पीटा । छात्रो के दबंगई का ये वीडियो ट्रामा सेंटर के सीसीटीवी में कैद हो गयी है और अब ये वीडियो सोशल मीडया पर बहुत तेजी वारयल हो रही है। बताया जा रहा है मारपीट के बाद जब पुलिस मौके पर पहुँची तो छात्र भाग गए थे ।और आज  छात्रों द्वारा रेजिडेंट की पिटाई के विरोध में रेजिडेंट हड़ताल पर चले गए है। ट्रामा सेंटर में चिकित्‍सक संग मारपीट का विरोध करते हुए कर्मचारी हड़ताल पर गए तो मरीजों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है । इस वक्त जूनियर डॉक्टर मारपीट में शामिल आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े हुए हैं। वहीं चीफ प्रॉक्टर का कहना है कि अभी जूनियर डॉक्टरों से बातचीत चल रही है लेकिन डॉक्टर जल्द से जल्द कार्रवाई को लेकर जिद पर अड़े हुए हैं।
। इंस्पेक्टर लंका ने बताया कि उनकी मांग के अनुसार ही मुकदमा लिखा जा चुका है और मारपीट में शामिल एक आरोपित गिरफ्तार भी कर लिया गया है। वहीं अन्य आरोपियों की पहचान नहीं हो पाई है जिसके लिए सीसीटीवी फुटेज से पहचान करने का प्रयास चल रहा है, चिन्हित कर गिरफ्तारी होगी।
डाक्‍टरों के अनुसार ओपीडी के लिए कमरा नंबर-13 में डा. सौरभ कुमार सिंह को दिखाने के लिए बीएचयू के छात्र सोनभद्र के एक मरीज को लेकर पहुंचे। डा. सौरभ के मुताबिक छात्र दवा लिखाने की जल्दी बाजी करने लगे। इस पर उन्होंने कुछ देर रुकने को कहा, जिसके बाद छात्र चले गए। बाद में तीन अन्य लोगों को लेकर पहुंचे और गाली-गलौच करने लगे। डाक्टर जब उठकर जाने लगे तो आरोपित उन्हें धक्का देकर हाथापाई करने लगे। सूचना पर जब तक पुलिस पहुंच पाती आरोपित वहा से फरार हो गए।
वहीं जानकारी होने के बाद मौके पर पहुंचे प्रॉक्टोरियल बोर्ड के सुरक्षाकर्मियों ने एक आरोपित को पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया। पकड़े गए आरोपित का नाम बद्री विशाल सिंह है, जो सोनभद्र निवासी है