अमेरिका ने छोड़ा चाइना को पीछे - International News

अमेरिका में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्‍या कल तक 85,390 से भी ज्यादा हो गई है । अमेरिका में अब तक 1200 से ज्‍यादा लोग की इस महमारी की वजह से जान जा चुकी है । इस वक्त दूसरे नंबर चीन है जहां पर कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्‍या 81,340 से ज्यादा और इसके बाद में  इटली जहां 80,589 से ज्यादा संक्रमित लोग हैं।  आप को बता दे ही भारत में इस वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्‍या 700 को पार कर गई है जबकि 20 लोग से ज्यादा  की मृत्यु हो चुकी है।

अमेरिका ने छोड़ा चाइना को पीछे - International News
अमेरिका ने छोड़ा चाइना को पीछे

अमेरिका ने छोड़ा चाइना को पीछे

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के तमाम दावे के बाद भी सुपर पावर में सुमार अमेरिका कोरोना वायरस से संक्रमितों मरीजों के मामले में चीन और इटली को पीछे छोड़ते हुए अब आगे निकल गया है और इस महामारी पर काबूपाने में बुरी तरह से असफल रहा ।इस संक्रमण ने अब पूरी तरह से अमेरिका को अपनी गिरफ्त में ले लिया है|  आप को बता दे की अमेरिका में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्‍या कल तक 85,390 से भी ज्यादा हो गई है । अमेरिका में अब तक 1200 से ज्‍यादा लोग की इस महमारी की वजह से जान जा चुकी है । इस वक्त दूसरे नंबर चीन है जहां पर कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्‍या 81,340 से ज्यादा और इसके बाद में  इटली जहां 80,589 से ज्यादा संक्रमित लोग हैं।  आप को बता दे ही भारत में इस वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्‍या 700 को पार कर गई है जबकि 20 लोग से ज्यादा  की मृत्यु हो चुकी है।
आप को बता दे की कुछ वक्त पहले अमेरिकी वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी थी कि दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी आबादी वाला देश अमेरिका कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ सकता है | अंदाजा अभी ये और भी लगाया जा रहा है कि 33 करोड़ की आबादी वाले अमेरिका में अभी इस महामारी के मामले और बढ़ सकते हैं।  बता दे की अकेले न्यू यॉर्क में 385 लोगों की मौत हुई है और कल एक दिन में 100 मौतें इस वायरस से हुई है।और अब यहाँ पर मरने वालों की कुल संख्या 1295 से ज्यादा हो चुकी है ।


यहां हालात कितने ख़राब हैं इसका अंदाजा न्यू यॉर्क के गवर्नर ऐंड्रू काओमो के बयान से लगता है। उन्होंने ट्रंप सरकार पर नाराजगी जताते हुए हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर की हालत को खराब बताया है।
ऐंड्रू का कहना है है किय न्यू यॉर्क में जरूरत के मुताबिक न तो बेड हैं और न ही इलाज करने के लिए स्टाफ।साथ ही उनका कहना है की रिटायर हो चुके मेडिकल स्टाफ को  भी वहा मदद के लिए बुलाया गया है।
और एक ओर उधर, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को अपने रवैये को लेकर आलोचनाओं का शिकार होना पड़ रहा है।
अमेरिका में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना वायरस के असर के कारण अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने लोगों से अपील की है कि वो घर पर ही रहें और बाज़ार में ना निकलें।और अब US  में सन्नाटा पसरा है |